5 Best Fertilizers for Houseplants

जैविक बागवानी हमेशा ही लोकप्रिय रही है हमारी भारतीय संस्कृति में, और हमारे द्वारा उपयोग की जाने वाली विधियाँ हमारे स्वास्थ्य और हमारे पेड़ पौधों के स्वास्थ्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं।

कई अलग-अलग सभी प्राकृतिक उर्वरक हैं जिनका इस्तेमाल हम अपने बगीचे और पौधे की मिट्टी को उर्वरक कर सकते हैं। इन उर्वरकों में से कुछ उर्वरक तो आप अपने घर में बना सकते है। कुछ उर्वरक जो हम घर में बना सकते हैं।

अंडे के छिलके /  Egg Shells

यदि चुने का उपयोग आप अपने बगीचे में करते हैं तो उसका बहुत लाभ देखने को मिलता हैं आपके बगीचे मे। यह पौधों के लिए आपकी मिट्टी की अम्लता (acidity) को कम करने में मदद करता हैं। और यह बहुत सारे कैल्शियम के साथ पौधे को पोषकता प्रदान करता हैं। चूना अपने आप में एक प्राकृतिक खाद है जिसे आप बाजार से आसानी से खरीद सकते है। परन्तु यह हमारे घर में आसानी से मिल जाता है। अंडे का छिलका, जी हाँ अंडे के छिलके में अधिक मात्रा में कैल्शियम कार्बोनेट है जिसका उपयोग आप अपने बगीचे में कर सकते है। इसको इस्तेमाल करने का तरीका बेहद आसान हैं। अंडे का इस्तेमाल कर उसका जो छिलका बचता हैं उसे २ – ३ दिन तक अच्छी धुप में सूखालें और उसके बाद उस छिलके को अच्छे से पीस दें और उस पिस्से हुए अंडे के छिलके का इस्तेमाल अपने पौधे में करे।

केले के छिलके / Banana Peels

केले में बहुत सारा पोटैशियम होता हैं जो बहुत आवश्यक पोटैशियम प्रदान करता है। केले के छिलके को धुप में सूखा के रखले और उसका आप अपने पौधे में मल्चिंग के रूप में भी इस्तेमाल कर सकते है। जो बेहद फायदे मंद होता हैं पौधों के लिए।

केले के छिलके को छोटे छोटे पीस में काट ले और उसे एक मग पानी में डाल के अँधेरे कमरे में ३ से ४ दिन के लिए छोड़ दे, उसके बाद उसका इस्तेमाल जरूरत के अनुसार अपने पौधों के मिटटी में करे , इसका प्रयोग करने से आपको चमत्कारिये परिणाम मिलेग।

कॉफ़ी की तलछट / Coffee Grounds

कॉफी के मैदा/तलछट महान उर्वरक बनाते हैं क्योंकि उनमें पौधे के विकास के लिए आवश्यक कई महत्वपूर्ण पोषक तत्व होते हैं। वे कीड़े को आकर्षित करने और मिट्टी में भारी धातुओं की सांद्रता को कम करने में भी मदद करते हैं। कॉफी का मैदा/तलछट बहुत सारे उपयोग के साथ आते हैं, लेकिन बहुत काम लोग जानते हैं उनका सबसे अच्छा एक उर्वरक के रूप में होता है।

पौधों के बहुत सारे, जैसे गुलाब और टमाटर, अम्लीय मिट्टी में सबसे अच्छा पनपते हैं। अपनी मिट्टी को अम्लीय करने में मदद करने के लिए अपने कॉफी के मैदा को रीसायकल करें। ऐसा करने के कुछ तरीके हैं – आप या तो मिट्टी की सतह पर छिरकाव करे, जिससे धीरे धीरे रसायन आपके पौधे तक पहुँचते है। और आपके पौधे को महत्वपूर्ण पोषकतत्व मिलते है।

रसोई का कचरा / Kitchen Scraps

घर की रसोई और बगीचे के कचरे को आप खाद बना सकते हैं और उसका इस्तेमाल आप अपने पौधों में कर सकते हैं। जो खाद धीरे-धीरे पोषक तत्वों को छोड़ती है, और वो एक लम्बे समय तक आपकी मिट्टि को पोषक तत्व देती रहती हैं, वो कम्पोस्ट मिट्टी को नमी बनाए रखने में भी मदद करता है, जो सब्जी के बागानों को गर्म, शुष्क गर्मियों के दौरान पनपने के लिए आवश्यक है।

खाद / Manure

खाद कई प्रकार के स्रोतों से आता है – गाय, घोड़े, मुर्गियाँ, और चमगादड़ के मल से। ये खाद नाइट्रोजन और अन्य पोषक तत्वों में उच्च होते है, लेकिन आपको इसे सावधानी से उपयोग करने की आवश्यकता होगी। कच्ची खाद अत्यधिक अम्लीय होती है जो आपके पौधों के लिए हानि कारक साबित हो सकता हैं और आपके पौधों को जला सकते हैं। इन खाद का उपयोग करना सबसे अच्छा है। अच्छे से सड़ने के बाद ही इसका इस्तेमाल किया जा सकता हैं और ये कह सकते हैं की ऐसे मल को कई साल तक सड़ने के लिए छोड़ दिया जाता हैं उसके बाद ही इसका इस्तेमाल किया जाता है। और ऐसे खाद पौधों के लिए उपुक्त होता हैं।